Crawl बजट क्या होता है

 नमस्कार दोस्तों आज आप जानेंगे Crawl Budget के बारे में, Crawl बजट क्या होता है और कौन-कौन से ऐसे फेक्टर होते हैं जो Crawl Budget को प्रभावित करते हैं।
दोस्तों सबसे पहले इसकी basic जानकारी ले लेते हैं इससे आप को समझ में आ जायेगा कि आखिर Crawl Budget होता क्या है और यह कैसे काम करता है।
Crawl बजट क्या होता है

दोस्तों एक निश्चित time  के अंदर गूगल का bot हमारी website पर आयेगा और हमारी वेबसाइट पर जो भी post स्होगी उन्हें crawl करेगा और पे पेजेस को भी crawl करता है पहले crawl करता है बाद में उसे इंडेक्ड भी करता है

दोस्तों इसका नाम Crawl Budget  इसीलिए रखा गया है कि इसका एक निश्चित time है गूगल का bot एक निश्चित टाइम में आपकी website पर आएगा और ज्यादा से ज्यादा पोस्ट और pages को crawl करेगा और उन्हें इंडेक्ड करेगा इसीलिए इसका नाम Crawl Budget  रखा गया है।

अब दोस्तों जान लेते हैं कि इसका s.c.o. मे कितना महत्त्व होता है दोस्तों आप इस तरीके से इसे समझ सकते हैं  जो छोटी website होती हैं जिन पर कम pages  होते हैं और कम post होती हैं उन पर इसका ज्यादा असर नहीं पड़ता है क्योंकि उन्हें यह बड़ी आसानी से इंडेक्स और crawl कर लेता है।
 दोस्तों समस्या वहां आती है जहां हजारों page होते हैं किसी एक वेबसाइट के अंदर वहां पर crawl बजट को लेकर थोड़े error रहते हैं। छोटी वेबसाइट पर कोई समस्या नहीं होती है उन्हें बड़ी आसानी से  क्रॉलर crawl कर लेता है और index भी कर देता है।

दोस्तों आप बात करते हैं जिस website में 10000 पेज होते हैं वहां पर इश्यूज क्यों आते हैं वहां दोस्तों error इसलिए आते हैं क्योंकि हर website के crawl होने का एक निश्चित time होता है उसी time पर गूगल के वोट आकर आपकी website को crawl करते हैं अब इतनी बड़ी वेबसाइट को crawl करने के लिए गूगल के bot को समय लगता है और जब वह crawl कर रहा होता है तब तक time खत्म हो जाता है और गूगल के बोर्ड को यह निर्देश मिलता है कि जितना भी crawl हो गया वहीं crawl रखें और वापस आ जाएं तो वह वोट उतना crawl करके वापस चले जाते हैं इसलिए आपकी बड़ी वेबसाइट पर इश्यूज रहते हैं।
Crawl बजट क्या होता है

 दोस्तों अब बात करते हैं कि एक time जोन के अंदर आपकी website के पेज crawl क्यों नहीं हो पाते हैं   क्योंकि दोस्तों आपकी वेबसाइट crawl बजट के हिसाब से ऑप्टिमाइज नहीं होगी तभी आपको इसमें इश्यूज देखने को मिलेंगे अगर आपकी वेबसाइट google crawl बजट के हिसाब से ऑप्टिमाइज है तो आपकी वेबसाइट में 100000 पेज भी होंगे उन्हें भी crawl बजट अपने निश्चित time के अंदर crawl कर लेगा और index भी कर देगा।

Crawl Budget की दो महत्त्वपूर्ण जानकारी

1 - Crawl rate limit 

इसको आप ऐसे समझ ले कि आपका जो वेबसाइट कॉल करने का fatching टाइम होता है जो इंडेक्सिंग time होता है उसी को Crawl rate limit कहते हैं।


2 - Crawl demand


दोस्तों इस के बारे में भी थोड़ा समझ लेते हैं  Crawl demand तब की जाती है जब गूगल के bot आपकी वेबसाइट के किसी भी पेज को Crawl नहीं कर पाते हैं तब आप गूगल के बोट से request करते हैं कि मेरे इस वेब पेज को crawl कर लिया जाए इसी को Crawl demand कहते हैं।

अपनी वेबसाइट को तुरंत crawl  कराने के कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं पर को हम आपको बताने जा रहे हैं इन्हें जानकर आपको पता लग जाएगा कि आप अपनी वेबसाइट को जल्दी से crawl कैसे करा सकते हैं ताकि उसमें कोई error न आये ।

1- दोस्तों सबसे पहले आपको अपनी website में नेवीगेशन बहुत ही अच्छे तरीके से बनाना है जिससे कि गूगल का bot आए और बड़ी आसानी से आपकी website पर विजिट कर सके।

2- दोस्तों इसके लिए दूसरी सबसे महत्वपूर्ण बात आती है कि आपकी वेबसाइट के पेजेस की speed बहुत ही fast होनी चाहिए आपका पेज जितनी जल्दी खुलेगा उतनी ही जल्दी गूगल bot आपकी वेबसाइट के पेज इसको इंडेक्स करेगा तो इसके लिए आपको अपनी वेबसाइट की speed पर बहुत ज्यादा ध्यान देना पड़ेगा।

3- दोस्तों आपके pages के ऊपर error भी नहीं होनी चाहिए किसी भी तरह का इरादा नहीं आना चाहिए अगर error होते हैं तो आपकी वेबसाइट को crawl नहीं कर पाएगा।
4- दोस्तों अपनी वेबसाइट में इंटरनल link भी सही ढंग से दें इनके कारण भी crawl करने में थोड़ी समस्या का सामना करना पड़ता है इसलिए इंटरनल link देते समय ध्यान रखें इसमें कोई भी किसी भी तरह का error न हो।

दोस्तों आशा करता हूं हमारे द्वारा दी गई जानकारी Crawl बजट क्या होता है आपकी समझ में आई होगी अगर आपको किसी भी तरह का कोई भी डाउट हो तो आप नीचे comment box में हमें जरूर बताएं हम reply करने की पूरी कोशिश करेंगे धन्यवाद

Newest
Previous
Next Post »